Spread the love

In Dehradun, patients are being searched with Google mapping in the areas declared as buffer zones in view of corona infection. For this, the Health Department has drawn a blueprint through Google Map. With this, thousands of people from more than 100 colonies and settlements of the city are coming to this area. While the Health Department is preparing their list on one hand, door-to-door screening has also been started in these areas.
The colonies and settlements are guarded by the police administration in areas in the city which have been found to be corona positive in large numbers. Bhagat Singh Colony, Kargi Grant’s Muslim colony, Lakkhibagh Muslim colony and Doiwala include Keshavpuri and Jhabrawala township. These sealed colonies have been declared hotspots by the Department of Health.

इन क्षेत्रों से जमात में गए या उनके संपर्क में आए लोगों को क्वारंटीन सेंटर भेजा गया है या अस्पताल में भर्ती किया गया है। इन इलाकों के तमाम लोगों की स्क्रीनिंग कर सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। साथ ही इनमें पुलिस का पहरा बैठाकर बाकी सभी को घरों में होम क्वारंटीन रहने को कहा गया है।

इसके बाद अब इन क्षेत्रों के सात किलोमीटर की परिधि में आने वाले बफर जोन में स्क्रीनिंग पर प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग का जोर है। सात किलोमीटर के दायरे को जल्द कैसे चिन्हित किया जाए, इसके लिए काफी मंथन के बाद गूगल मैप का सहारा लिया गया।

इसमें तमाम कॉलोनियों और बस्तियों के हजारों लोग दायरे में आ रहे हैं। कोरोना के जिला नोडल अफसर डॉ. दिनेश चौहान ने बताया कि बफर जोन में विभाग की लगभग 100 से अधिक टीमें स्क्रीनिंग में लगी हैं। जिनमें आशा कार्यकर्ता और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी भी शामिल हैं।

घर-घर जाकर लोगों से खासी, जुकाम, तेज बुखार होने या उनकी कोई ट्रेवल हिस्ट्री होने आदि के बारे में पूछा जा रहा है। जरूरत के हिसाब से किसी को अस्पताल भेजा रहा है तो किसी को दवा दी जा रही है और किसी को घर में होम क्वारंटीन रहने की सलाह दी जा रही है।


Spread the love

By udaen

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *