Untitled

दुनिया की पहली 100% क्लासिक इलेक्ट्रिक कार, अखरोट और बांस की लकड़ी का हुआ है इस्तेमाल

नई दिल्ली (ऑटो डेस्क)। Zero Labs Automotive ने दुनिया की पहली 100% क्लासिक इलेक्ट्रिक कार Ford Bronco की पेशकश की है। यह कार 1966-77 मॉडल पर बेस्ड है और इसके इंटीरियर में अखरोट और बांस की लकड़ी का इस्तेमाल किया गया है। यह कार पूरी तरह पर्यावरण के अनुकूल और लो-मेंटेनेंस से सुसज्जित है। कंपनी ने इसके इंटीरियर को बेहतर बनाने के लिए अखरोट और बांस की लकड़ी का बखूबी इस्तेमाल किया है, जिसे इसके कारीगरों ने हाथ से बनाया है। इसके अलावा कार के इंटीरियर में लैदर की फिनिशिंग भी देखने को मिलती है। कंपनी ने Ford Bronco प्रीमियम इलेक्ट्रिक व्हीकल के पहले एडिशन में सिर्फ 150 यूनिट्स ही बनाएंगी।

Ford Bronco किसी सुपीरियर लग्जरी कार से कम नहीं है। लग्जरी फील के लिए इसके बॉडी पैनल को बनाने में कार्बन फाइबर का इस्तेमाल किया गया है। इतना ही नहीं ज्यादा पावरफुल बनाने के लिए कंपनी ने इस इलेक्ट्रिक कार में ऑल इलेक्ट्रिक ड्राइव सिस्टम दिया है। कार के फ्रंट में फोर-लिंग सस्पेंशन दिए गए हैं और रियर में ब्रेकिंग के तौर पर ब्रेम्बो 6-पिस्टन कैपिलर्स दिए गए हैं।

इलेक्ट्रिक क्लासिक Ford Bronco में कंपनी ने 70 kWh की बैटरी दी है, जो कि एक बार चार्ज करने पर 306 किलोमीटर की दूरी तय करने में सक्षम है। इलेक्ट्रिक मोटर की ताकत का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इसका इंजन 369 हॉर्स पावर की शक्ति और 240 Nm का टॉर्क जनरेट करता है।

इस इलेक्ट्रिक कार की कीमत के बारे में फिलहाल कोई जानकारी नहीं है और ना हीं यह कितनी देर में चार्ज होगी इसकी जानकारी मिल पाई है। लेकिन मूल रूप से पांच गुना हॉर्सपावर होने के साथ यह निश्चित रूप से काफी तेज लगती है। और अगर यह पर्याप्त तेज नहीं है, तो Zero Labs का कहना है कि आप बैटरी पैक, VCU हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर, और इसके कुछ कंट्रोल सिस्टम को अपग्रेड कर सकते हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *