10 अक्टूबर 2021 , विश्व मानसिक दिवस पर गोष्ठी का आयोजन।

10 अक्टूबर 2021 , विश्व मानसिक दिवस (10 october 2021 World mental day) पर गोष्ठी का आयोजन।रिपोर्ट- कमल बिष्ट। कोटद्वार। विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस पर योगेश पांथरी के निजी निवास पर स्वमन ग्रुप की ओर से एक विचार गोष्ठी ‘ वर्तमान परिस्थितियों में हमारा मानसिक स्वास्थ्य ‘ का आयोजन किया गया। विचार गोष्ठी का आयोजन आरम्भ मानसिक असहजता से उभर कर आए प्रफुल्ल पांथरी ने अपनी मानसिक पीड़ा के 25 वर्षों का अनुभव साझा करते हुए कहा कि आज विश्व का प्रत्येक मानव किसी ना किसी रूप में मानसिक रूप से असहज है। विचार गोष्ठी में कोटद्वार प्रेस क्लब के पूर्व अध्यक्ष राजगौरव नौटियाल ने कहा कि समाज की सामूहिक भागीदारी से मानसिक रुप से असहाय लोगों को मुख्यधारा में जोड़ा जा सकता है पूर्व प्रधानाचार्य वाचस्पति बहुखंडी ने कहा व्यक्ति अगर इस समस्या से अवगत हो तो अपने थोड़े से प्रयासों से ही किसी पीड़ित व्यक्ति को मानसिक असहजता से बाहर लाने में मदद कर सकता है। इस बिषय में उन्होंने अपनी निजी अनुभव व प्रयासों
जीवन के अनुभवों को साझा करते हुए कहा कि यदि हमें जानकारी हो तो हम स्वयं व आने वाली पीढ़ी के मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर रखने में योगदान दे सकते हैं।
गोष्ठी में कैलीफोर्निया (अमेरिका ) से ऑनलाइन वर्चुअल माध्यम से प्रतिभाग करते हुए इंजीनियर सुशील पांथरी ने कहा कि मानसिक असहजता एक विश्वव्यापी समस्या बन चुकी है और इस समस्या के निदान हेतु मिलकर कार्य करना चाहिए। अरुण पाथरी ने स्वयमन ग्रुप के उद्देश्यों को बताते हुए कहा कि डॉक्टरी सहायता के साथ-साथ अन्य छोटे-छोटे उपायों जैसे म्यूजिक थेरेपी, कलर थेरेपी, नेचर थेरेपी से जुड़ाव आदि के द्वारा भी मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर किया जा सकता है विशेश्वर प्रसाद ने स्वमन ग्रुप के उद्देश्यों और उसकी अंतर्गत किए गए कार्यों की जानकारी देते हुए बताया कि किस तरह से समाज द्वारा मानसिक असहजता से पीड़ित व्यक्ति के प्रति करुणा एवं सहयोग का भाव रखकर पीड़ित व्यक्ति की जीवन को आसान बनाया जा सकता है। गोष्टी को देहरादून से आए जिला आकंलन अधिकारी देवेंद्र कुमार जोशी ने सभी अस्पतालों में मनोचिकित्सक की आवश्यकता पर बल दिया पूर्व प्रवक्ता श्री विनायक जोशी उद्योगपति प्रशांत कुकरेती, शिक्षक अरविंद जोशी, बेंगलौर में कार्यरत सॉफ्ट सॉफ्टवेयर इंजीनियर हिमांशु काला एवं पत्रकार कमल बिष्ट आदि ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर वरिष्ठ साहित्यकार योगेश पांथरी ने सभी अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापित किया। इस अवसर पर श्रीमती विमला पांथरी, इंजीनियर अभीतोष जोशी आदि कई गणमान्य लोग उपस्थित रहे। कार्यक्रम का सफल संचालन पत्रकार सुभाष चंद्रा नौटियाल ने किया। इस अवसर पर प्रफुल्ल पांथरी ने द्वारा संकलित बुलेटिन ” पढ़े समझे अमल करें ” नामक बुलेटिन का वितरण किया गया। कार्यक्रम के समापन पर सा. वन पर्यावरण के बैनर तले सभी गणमान्य लोगों द्वारा फलदार वृक्ष का रोपण किया गया।

10 अक्टूबर 2021 , विश्व मानसिक दिवस पर गोष्ठी का आयोजन।रिपोर्ट- कमल बिष्ट।

Leave a Comment