Spread the love

           जनपद गढ़वाल के बीरोंखाल अन्तर्गत ग्राम  दुनाऊ  में आयोजित कार्यक्रम शहीद राइफल मैन जसवंत सिंह रावत  के शौर्य दिवस समारोह में केंद्रीय रक्षा एवं पर्यटन राज्य मंत्री मा0 अजय भट्ट ने  मुख्य अतिथि एवं प्रदेश केमाननीय सैनिक कल्याण, औद्योगिक, विकास लघु सूक्ष्म एवं मध्यम उद्यम तथा ग्रामोद्योग मंत्री मा0 गणेश जोशी विशिष्ट अतिथि व विधायक दिलीप रावत ने प्रतिभाग करते हुए, दीप प्रज्ज्वलित एवं शहीद बाबा जसवंत सिंह रावत  के चित्र पर पुष्प अर्पित कर नमन करते हुए आयोजित कार्यक्रम का शुभारंभ किया। गणमान्य गणों ने शहीद के परिजनों को अंग वस्त्र ओढ़कर व फूल माला से सम्मानित किया। इस दौरान उपस्थित गणमान्य गणों ने स्मारिका 'हीरो ऑफ नेफा' का विमोचन किया। 

सम्मानित होने वालो में शहीद के छोटे भाई विजय सिंह रावत, बहु मधु रावत, बहिन राजेश्वरी नेगी एवं रेनु बिष्ट शामिल हैं।
शहीद के घर को संग्रालय बनाने, हेलीपैड बनाने एवं मैदान के सौन्दर्य करण करने की बात की।
धामी सरकार, प्रदेश के शहीद सैनिकों के परिवार के एक सदस्य को नौकरी दे रही है।

देहरादून में शहीद सैन्य धाम बनाये जा रहे है, जिसमें शहीद महावीर चक्र विजेता जसवंत सिह रावत एवं शहीद हर भजन सिंह की मंदिर बनाये जायेंगे।

केंद्रीय रक्षा राज्य तथा पर्यटन मंत्री श्री भट्ट ने अपने संबोधन में महावीर चक्र विजेता शहीद जसवंत सिंह रावत को स्मरण करते हुए उनके शौर्य और वीरता को जनता के बीच रखा उन्होंने कहा कि वीर जसवंत सिंह रावत ने जनपद के साथ-साथ उत्तराखंड तथा पूरे देश का नाम रोशन किया है। जिससे दुश्मन देशों की सेनाएं आज भी इस प्रणाम करती हैं। वीर जसवंत सिंह रावत के शौर्य और पराक्रम को लेकर प्रदेश सरकार की ओर से देहरादून में उनकी एवं वीर सैनिकों की स्मृति में सैन्य धाम का निर्माण कर रहा है उन्होंने कहा कि देहरादून में बनने वाले सैन्य धाम में महावीर चक्र विजेता जसवंत सिंह रावत और वीर सैनिक हरभजन सिंह की स्मृति में मंदिरों का निर्माण किया जाएगा। श्री भट्ट ने कहा कि पौड़ी जनपद के बीरोंखाल क्षेत्र को वीर भूमि के नाम से जाना जाता है। यहां पर वीरांगना टीलू टीलू रौतेली से लेकर वीर शहीद जसवंत सिंह जैसे सपूतों ने जन्म लिया है। जिसे आज पौड़ी जनपद के साथ ही उत्तराखंड व भारतवर्ष को पूरे विश्व पटल पर से अलग पहचान मिली है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में भारतीय सैनिकों को और अधिक सशक्त और मजबूत बनाया गया है। जिससे दुश्मन देशों के हौसलो को पस्त कर दिया है। कहा कि प्रधानमंत्री के दूरदर्शिता की बदौलत भारतीय सैनिकों को हर प्रकार के आधुनिक हथियार मुहैया कराई जा रहे हैं, यही नहीं सैनिकों को दिए जाने वाले जरूरी हथियारों को अपने देश में ही निर्माण किया जा रहा है। जो कि देश के लिए गर्व का विषय है। उन्होंने क्षेत्र की जनता तथा युवाओं संबोधित करते हुए उत्तराखंड की मातृ शक्ति को नमन किया। इस मौके पर वीर शहीद जसवंत सिंह रावत स्मृति ट्रस्ट के आयोजकों ने केंद्र राज्य रक्षा मंत्री अजय भट्ट से कार्यक्रम स्थल के सौंदर्य करण व कार्यक्रम स्थल तक मोटर मार्ग के निर्माण की मांग की। जिस पर केंद्र राज्य मंत्री ने आयोजकों को लिखित रूप में अपनी सभी मांगों को प्रस्तुत करने को कहा। उन्होंने कहा कि केंद्रीय नेतृत्व में बीरोंखाल क्षेत्र के दुनाव का समुचित विकास किया जाएगा, साथ ही आने वाले समय में वीर शहीद जसवंत सिंह रावत की स्मृति में आयोजित होने वाले इस समारोह को और अधिक भव्य बनाया जाएगा। इसके लिए उन्होंने जिला प्रशासन को भी आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

प्रदेश के सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास मंत्री गणेश जोशी ने वीर शहीद तथा महावीर चक्र विजेता शहीद जसवंत सिंह रावत को याद करते हुए उनकी शहादत पर श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने कहा कि वीर शहीद जसवंत सिंह रावत आज भी उत्तराखंड के युवाओं के लिए प्रेरणा स्रोत है। उन्होंने कहा कि जसवंत सिंह रावत ने 1962 के भारत चीन युद्ध में दुश्मन देश से लोहा लिया था। वह आज भी भारतीय सेना के इतिहास में स्वर्ण अक्षरों में दर्ज है।
इस मौके पर बतौर सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास मंत्री गणेश जोशी ने क्षेत्रीय जनता की मांग पर दुनाऊ में हेलीपैड निर्माण तथा वीर शहीद जसवंत सिंह रावत के पैतृक घर को संग्रहालय के रूप में विकसित करने की बात कही साथ ही उन्होंने कार्यक्रम स्थल के मैदान को सौंदर्य करण करने की भी बात कही उन्होंने कहा कि यह कार्य शीर्ष प्राथमिकता में पूर्ण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि वे स्वयं भी फौज में रहकर देश की सेवा कर चुके हैं । इसलिए उन्हें सैनिकों के सभी भावनाओं की भली-भांति जानकारी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के सही निर्णय के फलस्वरूप यहां के सैनिकों को पूरी सैन्य सुविधाएं दी जा रही है, साथ ही शहीद होने पर परिजनों को सरकारी नौकरी भी दी जा रही है।

इस अवसर पर स्थानीय विधायक महंत दिलीप रावत ने वीर शहीद जसवंत सिंह रावत को स्मरण कर उनकी शहादत को देश की सच्ची सेवा बताया। उन्होंने कहा कि वीर जसवंत सिंह आज भी बॉर्डर पर सैनिकों के लिए उसी सैन्य भावना के साथ तैनात रहते हैं। यही नहीं वीर जसवंत सिंह आज भी 1962 चीन युद्ध की भांति भारतीय सेना के जवानों के लिए मार्गदर्शन का कार्य भी करते हैं। यही कारण है कि वीर जसवंत सिंह रावत को आज तक भारतीय सेना में यथोचित सम्मान प्राप्त होता रहता है उन्होंने कहा कि उनकी विधानसभा क्षेत्र के दुनाव में वीर जसवंत सिंह रावत को अपना आदर्श मानकर युवा आज भी भारतीय सेना में निस्वार्थ भाव से सेवाएं कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि वीरभूमि बीरोंखाल के दुनाव में करीब हर घर में एक व्यक्ति भारतीय सेना में तैनात है। जो कि उनकी विधानसभा क्षेत्र के लिए गर्व की बात है। विधायक श्री रावत ने वीर शहीद स्मृति ट्रस्ट के आयोजकों के प्रयासों को सराहनीय बताया कहा कि इस आयोजन में बतौर विधायक उनसे जो भी प्रयास होगा किया जाएगा।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी प्रशांत शाह, उपजिलाधिकारी, जे एस आर ( हीरो ऑफ नेफ़ा) मेमोरियल ट्रस्ट के पदाधिकारी, पूर्व सैनिक व ग्रामीण सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।


Spread the love

By udaen

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *