Spread the love

मुख्य सचिव श्री उत्पल कुमार सिंह ने मानसून की पूर्व तैयारियों के सम्बन्ध में समस्त जिलाधिकारियों एवं सम्बन्धित अधिकारियों के साथ बैठक की।

मुख्य सचिव श्री उत्पल कुमार सिंह ने मानसून की पूर्व तैयारियों के सम्बन्ध में समस्त जिलाधिकारियों एवं सम्बन्धित अधिकारियों के साथ बैठक की। मुख्य सचिव ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि मानसून आने से पहले ही सभी सम्बन्धित विभाग सभी प्रकार की आवश्यक व्यवस्थाएं पूर्ण कर लें। रिस्पाॅन्स टाईम को कम किया जाएः मुख्य सचिव मुख्य सचिव ने निर्देश दिये कि क्षतिग्रस्त मार्गों को खोलने के लिए रिस्पाॅन्स टाईम को लगातार कम किये जाने के प्रयास किए जाएं। इसकी लगातार माॅनिटरिंग की जाए। साथ ही, मानसून अवधि में प्रायः बन्द होने वाले मार्गों को चिन्ह्ति कर उनके लिए वैकल्पिक व्यवस्थाएं कर ली जाए। ऐसे ब्रिज जो क्षतिग्रस्त हो सकते हैं या कमजोर हैं, उनकी स्थिति को सुधारते हुए छोटे पैदल पुलों, ट्राॅली एवं वुडन लोग्स की व्यवस्थाएं कर ली जाएं। क्राॅनिक लैण्ड स्लाईड जोन पर जेसीबी की तैनाती कर ली जाए। उन्होंने निर्देश दिये कि महत्वपूर्ण मार्गों व स्थानों पर सम्बन्धित अधिकारियों के फोन नम्बर आदि की जानकारी साईनेज के माध्यम से उपलब्ध करायी जाए। दुर्घटना सम्भावित क्षेत्रों में सायरन सिस्टम की व्यवस्था की जाए। उन्होंने लोक निर्माण विभाग को निर्देश दिये कि विभागीय वेबसाईट पर सड़कों के बन्द होने एवं खुलने की जानकारी लगातार अपडेट की जाए। उन्होंने कहा कि सड़कों में गड्ढों को भरना व मरम्मत का कार्य अतिशीघ्र पूर्ण कर लिया जाए। संवेदनशील स्थानों पर मैनपावर और मशीनरी की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए मुख्य सचिव ने सभी संवेदनशील स्थानों पर मैनपावर और मशीनरी की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मार्गों के बन्द होने की स्थिति में यात्रियों के लिए आवासीय, खानपान, पेयजल, परिवहन एवं शौचालय की उचित व्यवस्था की जाए। सभी जिलाधिकारियों द्वारा दुर्घटना सम्भावित मैदानी क्षेत्रों में बाढ़ की स्थिति में आस पास के क्षेत्रों में गेस्ट हाउस, टेन्ट, खाद्य सामग्री आदि की व्यवस्थाएं कर ली जाएं ताकि यात्रियों व प्रभावितों को किसी प्रकार की कमी न हो। दुर्घटना सम्भावित क्षेत्रों में दवाईयां भेजने के लिए ड्राॅन की व्यवस्थाएं की जाएं मुख्य सचिव श्री उत्पल कुमार सिंह ने समस्त जिलाधिकारियों को निर्देश दिये कि एम्बुलेंस, डाॅक्टर, पैरामेडिकल स्टाफ एवं दवाईयों की उचित व्यवस्थाएं रखी जाएं। इसके साथ ही, यदि कोई दुर्घटना होती है तो पीड़ितों तक दवाई आदि पहुंचाने के लिए ड्राॅन की व्यवस्था की जाए। सभी जनपदों में सर्वाईवल किट्स तैयार रखे जाएं मुख्य सचिव ने निर्देश दिये कि सभी जनपदों में सर्वाईवल किट्स तैयार रखे जाएं ताकि आपदा जैसी परिस्थितियों में प्रभावितों को सर्वाईव करने के लिए आवश्यक वस्तुएं शीघ्र उपलब्ध करायी जा सकें। भारी बारिश के बाद क्षतिग्रस्त पानी एवं विद्युत लाईनों की शीघ्र मरम्मत हेतु लक्ष्य निर्धारित किया जाए। उन्होंने निर्देश दिये कि ऐसे क्षेत्र जो बाढ़ से प्रभावित होते हैं, उनमें बाढ़ चैकियों की व्यवस्था पूर्ण कर ली जाए। साथ ही आवश्यक सामग्री की व्यवस्था भी कर ली जाए। इस अवसर पर सचिव आपदा प्रबन्धन श्री अमित नेगी सहित शासन एवं सम्बन्धित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।


Spread the love

By udaen

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *