Spread the love

हरिद्वार। माननीय मंत्री शहरी विकास श्री मदन कौशिक ने आज जिलाधिकारी हरिद्वार श्री दीपक रावत की उपस्थिति में मेयर अनिता शर्मा, पालिका अध्यक्ष संजय शर्मा एव सभी सभासदों, पार्षदों के साथ सीसीआर सभागार में बैठक कर विश्व पर्यावरण दिवस 05 जून को वृहद स्तर पर मनाये जाने तथा हरिद्वार को और अधिक स्वच्छ व सुंदर शहर के रूप में पहचान दिलाने के लिए नगर निगम सहित सभी निकायों, जिला प्रशासन इस दिन स्वच्छता दिवस के रूप में मनाये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधियों तथा जन सामान्य की सहभागिता सुनिश्चि किये जाने के लिए समस्त विभाग अपने स्तर से प्रयास करें। जिलाधिकारी ने कहा कि पर्यावरण दिवस के उपलक्ष्य में पर्यटन विभाग द्वारा स्मृति वन एवं वृहद स्तर पर सफाई एवं स्वच्छता कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। स्मृति वन कार्यक्रम के पहले चरण में धामों के आसपास के गांव में खाली सिविल सोयम एवं वन भूमि तलाश कर दूसरे चरण में प्रभागीय वनाधिकारी द्वारा उस जमीन के लिए उचित पौधों की सूची बनाकर उपलब्ध कराया जाएगा। तीसरे चरण मंे स्थानीय एवं सहायता समूह या वन पंचायत सक्रिय कर, चैथे चरण में पर्यटकों से धनराशि रू0 2000 लेकर वे स्वयं सहायता समूहों को ट्रांसफर करेंगे। स्मृति वन कार्यक्रम के शुभारंभ के दिन जिला स्तरीय अधिकारियों द्वारा 05 जून को पौधे लगाये जाएंगे। यह कार्यक्रम रिसपाॅन्सीबल टूरिज्म के अंतर्गत होगा। दूसरा अभियान स्वच्छ गढ़वाल अभियान के अंतर्गत वृहद स्तर पर सफाई के अभियान चलाएं जायेगें, जिसमें जिला स्तर अधिकारीगण, स्वयं सहायता समूह, विद्यार्थी, पुलिस, यात्री एवं हर विभाग द्वारा प्रतिभाग किया जाएगा। डीएफओ के सहयोग से सम्बन्धित वन भूमि में कौन से पेड़ लगेंगे, इसकी जानकारी लेकर वही पेड़ लगेगें। यात्री द्वारा स्वयं स्थल का चयन किया जाएगा एवं यात्रियों को प्रेरित करने हेतु उनके पूर्वजों अथवा पिता के नाम से पेड़ लगाये जाएंगे। वन विभाग द्वारा दुर्घटनाओं की रोकथाम हेतु सड़क के किनारे वृक्ष लगाये जाएंगे। 5 जून 2019 को समस्त जिला स्तरीय अधिकारियों से समन्वय स्थापित करते हुये वृहद वृक्षारोपण कराये जाने आदि के समस्त कार्यक्रम हेतु अपर जिलाधिकारी (वित एवं राजस्व),हरिद्वार को नोडल अधिकारी नामित किया गया है। अपर जिलाधिकारी जनपद स्तरीय अधिकारियों को इस सम्बन्ध मे अवगत कराते हुये सहयोग राशि संबंधित संस्था को देकर वृक्षारोपण करने हेतु भी कार्यवाही सुनिश्चित करेंगे। विश्व पर्यावरण दिवस 5 जून, 2019 को हरिद्वार नगर मे वृहद स्वच्छता कार्यक्रम हेतु नगर आयुक्त, नगर निगम हरिद्वार को नोडल अधिकारी नामित किया गया है। नगर आयुक्त स्वच्छता कार्यक्रम हेतु सभी निकाय अपने क्षेत्र का सबसे गंदगी वाला स्ािान चिन्हित कर उसका स्वच्छ बनायेंगे साथ ही यह भी सुनिश्चि करेंगे कि यह स्थान दोबारा कभी गंदा न बने। समस्त जिला स्तरीय अधिकारी एवं अन्य गण उस स्थल पर उपस्थित होकर स्वच्छता कार्यक्रम में सहभागी होंगे। ग्रामीण क्षेत्रों मंे ग्राम विकास समितियों के माध्यम से स्वच्छता कार्यक्रम संचालित किये जायंेगे, जिसके लिए मुख्य विकास अधिकारी हरिद्वार, अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत हरिद्वार एवं समस्त खण्ड विकास अधिकारियों निर्देश प्रसारित करेगे, ताकि स्वच्छता कार्यक्रम सफलतापूर्वक संपादित हो। श्री कौशिक ने नगर पालिका मंगलौर, लक्सर, शिवालिकनगर के, नगर पंचायत झबरेड़ा, लंढौरा, पिरान कलियर, खानपुर निकायों को पर्यावरण दिवस के लिए विशेष रूप से प्रेरित किया। उन्होंने सभी आयुक्तों, चेयरमेन, ईओ आदि से उनके द्वारा अपने क्षेत्र में डोर टू डोर कलेक्शन, घरेलू एवं सार्वजनिक शौचालयों के निर्माण कर पूर्णतः ओडीफ तथा स्वच्छ भारत मिशन के लक्ष्य को अति शीघ्र्र प्राप्त करने के निर्देश दिये। उन्होंनंे कहा कि निकाय अपनी आय स्वयं अर्जित करने के लिए कम्पोस्ट निर्माण की दिशाा में प्रयास करें। जिन निकायों द्वारा डोर टू डोर कलेक्शन आउटसोर्स एजेंसी से कराया जा रहा है वह निगम सहित वह निकाय यह सर्वे करे कि कौन घर यूजर चार्ज नहीं दे रहा है और एजेंसी कहां से किस कारण कूड़ा कलेक्शन नहीं कर रही है। यूजर चार्ज अनिवार्य रूप से लिया जाये कलेक्शन में लापरवाही पाये जाने पर एजेंसी के विरूद्ध कार्रवाई की जाये। बैठक में सचिव शहरी विकास श्री चन्द्रेश यादव, मुख्य नगर आयुक्त आलोक कुमार पाण्डेय, नगर आयुक्त रूड़की नगर निगम श्री डंडरियाल, डीएफओ आकाश वर्मा, एसडीएम श्रीमती कुसुम चैहान, भाजपा नेता विकास तिवारी सहित समस्त विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।। जिला सूचना अधिकारी हरिद्वार।


Spread the love

By udaen

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *