प्रदेश के उच्च शिक्षा, सहकारिता, आपदा प्रबंधन एवं पुनर्वास, प्रोटोकॉल, चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ0 धन सिंह रावत ने आज राजकीय संयुक्त उपजिला चिकित्सालय श्रीनगर में आधुनिक अल्ट्रासाउंड मशीन का लोकार्पण तथा 01 बेसिक लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया।

कोप्रदेश के उच्च शिक्षा, सहकारिता, आपदा प्रबंधन एवं पुनर्वास, प्रोटोकॉल, चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ0 धन सिंह रावत ने आज राजकीय संयुक्त उपजिला चिकित्सालय श्रीनगर में आधुनिक अल्ट्रासाउंड मशीन का लोकार्पण तथा 01 बेसिक लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया। कार्यक्रम में जिलाधिकारी डॉक्टर विजय कुमार जोगदण्डे एव अन्य गणमान्य व्यक्तियो ने प्रतिभाग किया। मा0 मंत्री डा0 रावत ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि अल्ट्रासाउंड मशीन से पेट, गले, नशों सहित अन्य बिमारियों के उपचार में मदद मिलेगी, जिससे लोगों इलाज के लिए बड़े शहरों की ओर नही जाना पड़ेगा। कहा कि उप जिला अस्पताल को पहले रेफर हॉस्पिटल के रूप जाना जाता था, लेकिन अब अन्य जिलों से भी यहां मरीज रेफर होकर आते हैं तथा अपना इलाज कराकर सकुशल जाते हैं। उन्होंने कहा कि डाक्टरों की कमी के चलते 04 विशेषज्ञ डाक्टरों की नियुक्ति कर दी गई है, जो जल्द ही पदभार ग्रहण करेंगे। उन्होंने कहा कि श्रीनगर में मैरीन ड्राइव रोड़, ठंडी रोड़ तथा नगर पालिका श्रीनगर को नगर निगम बनाया जाएगा। मा0 मंत्री ने जिलाधिकारी को निर्देशित किया कि डाक्टरों के आवासीय भवन निर्माण के लिए एक सप्ताह के भीतर प्रोपोजल भेजे। उन्होंने कोविड काल में जिला प्रशासन तथा स्वास्थ्य विभाग के बेहतर कार्य करने पर शुभकामनाएं दी।
मा0 मंत्री डॉ0 रावत ने अपने संबोधन में कहा कि उप जिला अस्पताल को सूपर अस्पताल बनाया जाएगा तथा अस्पताल में एक और ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किया जाएगा, जिससे आम जनमानस को सुविधा प्राप्त हो सकेगी। उन्होंने कहा कि पैरामेडिकल स्टाफ में 07 हजार नियुक्ति तथा एनएचएम के माध्यम से भी कर्मियों की तैनाती जल्द की जाएगी। मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा जल्द ही एयर एंबुलेंस सेवा प्रारम्भ की जाएगी, जिसमें जिलाधिकारी व मुख्य चिकित्साधिकारी को गम्भीर स्थिति को देखते हुए रेफर करने का अधिकार होगा। कहा कि संयुक्त अस्पताल श्रीनगर में आने वाले दिनों में आर्थाे डॉक्टर की तैनाती भी की जाएगी। बागेश्वर, रुद्रप्रयाग तथा जनपद गढ़वाल के विकासखण्ड खिर्सू में शत-प्रतिशत वेक्सीनेशन किया जा चुका है तथा 30 दिसम्बर तक उत्तराखंड में शत-प्रतिशत वेक्सीनेशन किया जाएगा। कहा कि दिव्यांग, बुजुर्गों व गर्भवती महिलाओं को घर-घर जाकर वैक्सीन लगाई जा रही है। साथ ही गर्भवती महिलाओं को सितंबर माह से घर से अस्पताल आने तथा अस्पताल से घर जाने के लिए केंद्र व राज्य सरकार मिलकर सहायता राशि उपलब्ध करायेगी। कहा कि राज्य सरकार के द्वारा अस्पतालों में 216 जांचे निशुल्क कराई जाएगी तथा 200 से अधिक दवाईयां निशुल्क दी जाएंगी, जिससे डॉक्टर बाहर की दवाई नही लिख सकेंगे। मंत्री ने कहा कोविड-19 कि तीसरी लहर को देखते हुए अस्पतालों में दवाई तथा बेड की व्यवस्था कर ली गई है। उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज अल्मोड़ा जल्द ही प्रारम्भ होने वाला है, साथ ही पिथौरागढ़, हरिद्वार व उधमसिंह नगर में मेडिकल कालेजों का भूमि पूजन जल्द ही किया जाएगा। जिससे कि प्रदेश में 08 मेडिकल कॉलेज हो जाएंगे।
जिलाधिकारी गढ़वाल डॉ0 विजय कुमार जोगदण्डे ने कहा कि जनपद में स्वास्थ्य सुविधा के क्षेत्र में बेहतर कार्य किये जा रहे हैं। कहा कि समस्त विकासखण्डों के मुख्य अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट लगाए जाएंगे। कहा कि बेस अस्पताल श्रीनगर में 1250 एलपीएम का ऑक्सीजन प्लांट लगाया गया है तथा 2000 एलपीएम ऑक्सीजन प्लांट का कार्य गतिमान है। कोटद्वार में 500 एलपीएम, थलीसैंण में 300 एलपीएम, चेलुसैंण, पौड़ी तथा नैनीडांडा में भी ऑक्सीजन प्लांट का कार्य भी प्रगति पर है। जिससे मरीजों को बड़े अस्पतालों में रेफर नही करना पड़ेगा। कहा कि जनपद में कोरोना काल में स्वास्थ्य विभाग द्वारा बेहतर कार्य किया जा रहा है, वर्तमान समय मे जनपद में 10 से कम एक्टिव केस हैं। कहा कि ग्राम पंचायतों में 04 हजार से ज्यादा ऑक्सीमीटर की व्यवस्था आपदा फंड से की गई है।
इस अवसर पर स्वास्थ्य निदेशक गढ़वाल मंडल डॉ0 भारती राणा, उपजिलाधिकारी श्रीनगर रविन्द्र बिष्ट, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 मनोज शर्मा, सीएमएस गोविंद पुजारी, निसचेतक डॉ0 आनंद सिंह राणा, सर्जन डॉ0 लोकेश सलूजा, एलएमओ डॉ0 कमलेश भारती, आई सर्जन डॉ0 भाष्कर पैन्यूली, डॉ0 डीपी जोशी, डॉ0 रचित गर्ग, मंडल अध्यक्ष गिरीश पैन्यूली, मीडिया प्रभारी गणेश भट्ट, मंडल मीडिया प्रमुख श्रीनगर अनुग्रह मिश्र सहित सुधीर जोशी, विनीत पोस्ती, अर्जुन गैरोला आदि उपस्थित थे

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *