खत्म हो सकती है मुफ्त इनकमिंग की आजादी, कॉल रिसीव करने के लिए भी देने पड़ेंगे पैसे

मोबाइल सेवा प्रदाता कंपनियों ने नई टैरिफ दरें लागू कर दी हैं, जिससे ग्राहकों के खर्च में डेढ़ गुना तक इजाफा हो जाएगा। कंपनियों ने सबसे बड़ा झटका इनकमिंग कॉल पर दिया है, जहां ग्राहकों से फेयर यूजेज पॉलिसी (एफयूपी) के  तहत दूसरे नेटवर्क पर कॉल करने पर 6 पैसे प्रति मिनट वसूले जाएंगे। विश्लेषकों का कहना है कि यह सिर्फ एक शुरुआत है और आने वाली दो-तीन तिमाहियों में मुफ्त इनकमिंग कॉल का दौर पूरी तरह समाप्त हो सकता है।एसबीआई कैपिटल सिक्योरिटीज के मुख्य शोधकर्ता राजीव शर्मा ने कहा कि पहले जियो ने अन्य नेटवर्क पर कॉल करने पर आईयूसी चार्ज के तहत 6 पैसे प्रति मिनट वसूलना शुरू किया और अब वोडा आइडिया व एयरटेल ने भी एफयूपी लगा दिया है।

खत्म हो सकती है मुफ्त इनकमिंग की आजादी, कॉल रिसीव करने के लिए भी देने पड़ेंगे पैसे

टेक डेस्क, अमर उजाला, Updated Tue, 03 Dec 2019 03:04 PM IST

Airtel, Jio, Vodafone and Idea

3 of 6

Airtel, Jio, Vodafone and Ideaफायदे में रह सकते हैं जियो ग्राहक
दूरसंचार क्षेत्र के जानकारों का कहना है कि जियो 6 दिसंबर को जब अपनी नई टैरिफ का एलान करेगी, तो प्रतिद्वंदी कंपनियों के मुकाबले ग्राहकों को ज्यादा राहत दे सकती है। कंपनी ने पहले भी कहा था कि हम अन्य कंपनियों से 20 फीसदी सस्ते टैरिफ देंगे, जबकि सेवाओं में 300 फीसदी बढ़ोतरी जारी रहेगी। फायदे में रह सकते हैं जियो ग्राहक
दूरसंचार क्षेत्र के जानकारों का कहना है कि जियो 6 दिसंबर को जब अपनी नई टैरिफ का एलान करेगी, तो प्रतिद्वंदी कंपनियों के मुकाबले ग्राहकों को ज्यादा राहत दे सकती है। कंपनी ने पहले भी कहा था कि हम अन्य कंपनियों से 20 फीसदी सस्ते टैरिफ देंगे, जबकि सेवाओं में 300 फीसदी बढ़ोतरी जारी रहेगी।

उन्होंने कहा कि वाइस कॉल की कीमतें फिर से पूरी तरह वापस आ गई हैं। यह फिलहाल शून्य तक नहीं जा सकती, क्योंकि कंपनियां इसके लिए एफयूपी और ऑफ नेट का इस्तेमाल करती हैं। संभव है कि दूरसंचार कंपनियां अगले 6-9 महीने में अपने नेटवर्क पर भी कॉलिंग शुल्क वसूलने लगें और मुफ्त इनकमिंग कॉल का दौर पूरी तरह खत्म हो जाफायदे में रह सकते हैं जियो ग्राहक
दूरसंचार क्षेत्र के जानकारों का कहना है कि जियो 6 दिसंबर को जब अपनी नई टैरिफ का एलान करेगी, तो प्रतिद्वंदी कंपनियों के मुकाबले ग्राहकों को ज्यादा राहत दे सकती है। कंपनी ने पहले भी कहा था कि हम अन्य कंपनियों से 20 फीसदी सस्ते टैरिफ देंगे, जबकि सेवाओं में 300 फीसदी बढ़ोतरी जारी रहेगी। शेयर चढ़े, 33 हजार करोड़ बढ़ी पूंजी
टैरिफ बढ़ाने की घोषणा के बाद सोमवार को दूरसंचार कंपनियों के शेयर एक साल के उच्चतम स्तर पर पहुंच गए। वोडा आइडिया, एयरटेल और जियो ने संयुक्त रूप से 33 हजार करोड़ की पूंजी जोड़ी। बीएसई पर वोडा आइडिया के शेयर 7.79 फीसदी चढ़े और कंपनी का पूंजीकरण 2,700 करोड़ रुपये बढ़ गया। इसी तरह, एयरटेल के शेयरों में 3.67 फीसदी उछाल आया और कंपनी को 8,300 करोड़ का पूंजीकरण मिला। रिलायंस जियो में 2.28 फीसदी उछाल दिखा जिससे कंपनी का बाजार पूंजीकरण 22,000 करोड़ रुपये बढ़ गया

Leave a Comment