Spread the love


एमएसएमई मंत्रालय ने एमएसएमई निर्यात संवर्धन परिषद की अनधिकृत और द्वेषपूर्ण गतिविधियों के बारे में व्यापक रूप से आम जनता को सतर्क किया है

एमएसएमई मंत्रालय के एक हिस्से के रूप में खुद को पेश करने वाले इस संगठन की दुर्भावनापूर्ण गतिविधियों को मंत्रालय ने काफी गंभीरता से लिया है

मंत्रालय ने अपने नाम पर इस संगठन द्वारा नियुक्ति पत्र जारी करने में अपनी किसी भी भूमिका या अधिकार-पत्र देने से साफ इनकार किया है

प्रविष्टि तिथि: 17 OCT 2020 9:41AM by PIB Delhi

भारत सरकार के एमएसएमई मंत्रालय ने कहा है कि यह पाया गया है कि एमएसएमई निर्यात संवर्धन परिषद द्वारा  ‘निदेशक’ के पद के लिए नियुक्ति पत्र जारी करने के संबंध में कुछ संदेश मीडिया और सोशल मीडिया में प्रसारित किए जा रहे हैं। यह भी पाया गया है कि यह संगठन एमएसएमई मंत्रालय के नाम का उपयोग कर रहा है।

यह स्पष्ट किया जाता है कि भारत सरकार का एमएसएमई मंत्रालय किसी भी तरह से एमएसएमई निर्यात संवर्धन परिषद  (MSME Export Promotion Council) से संबद्ध नहीं है। इसके साथ ही एमएसएमई मंत्रालय ने इस परिषद से संबंधित किसी भी पद पर नियुक्ति या किसी भी पोस्टिंग को अधिकृत नहीं किया है। आम जनता को इस बारे में सूचित किया जाता है और इसके साथ ही इस तरह के संदेशों या ऐसे गलत तत्वों के बहकावे में न आने की सलाह दी जाती है।


Spread the love

By udaen

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *