आज उत्तराखंड पहुंचेंगे स्वीडन के राजा-रानी, हरिद्वार में करेंगे एसटीपी का लोकार्पण

स्वीडन के राजा और रानी

खास बातें

  • नगर निगम क्षेत्र में स्वीडिश भाषा में लगेंगे स्वागत के लिए होर्डिंग और बैनर  
  • शाही दंपति के लिए वन विभाग के पनियाली गेस्ट हाउस को सजाया
  • सड़क मार्ग से गुजरेंगे शाही दंपति, चप्पे चप्पे पर तैनात रहेगी पुलिस  
पहली बार उत्तराखंड पहुंच रहे स्वीडन के 16वें नरेश कार्ल गुस्ताफ और रानी सिल्विया आज उत्तराखंड के दौरे पर आ रहे हैं। वे कॉर्बेट पार्क की सैर के लिए जाएंगे। साथ ही वे हरिद्वार में एसटीपी का लोकार्पण भी करेंगे।

विज्ञापन

वे कोटद्वार के पाखरो गेट के रास्ते कार्बेट नेशनल पार्क की सैर कर वन्य जीवों का दीदार करेंगे। पुलिस प्रशासन एवं वन विभाग सड़क मार्ग से कोटद्वार पहुंच रहे शाही दंपति के स्वागत की तैयारियों में जुटा है।

बृहस्पतिवार को शाही दंपति हरिद्वार से लालढांग-चिलरखाल मार्ग, भाबर से देवी रोड और शहर के झंडाचौक होते हुए लैंसडौन वन प्रभाग के पनियाली गेस्ट हाउस पहुंचेंगे। पनियाली गेस्ट हाउस में भोजन करने के बाद पाखरो गेट होते हुए कार्बेट नेशनल पार्क की सैर के लिए रवाना होंगे।

एसडीएम योगेश मेहरा ने बताया कि शाही दंपति के स्वागत की तैयारियां पूरी कर ली गई है। नगर निगम क्षेत्र में सफाई व्यवस्था चाक चौबंद करने के साथ चिलरखाल से पनियाली तक उनके स्वागत के लिए स्वीडिश भाषा में तोरण द्वार, होर्डिंग और बैनर लगाए जाएंगे। सड़कों की सफाई के लिए निगम, पनियाली गेस्ट हाउस में व्यवस्थाएं देखने के लिए वन विभाग, टेंट, भोजन की व्यवस्था के लिए लोक निर्माण विभाग को निर्देश दिए गए हैं।

लैंसडौन वन प्रभाग के रेंज अधिकारी बीबी शर्मा ने बताया कि शादी दंपति के स्वागत के लिए पनियाली विश्रामगृह को सजाया गया है। यहां सफाई व्यवस्था के साथ नए सोफे कवर, बेड सीट और नये पर्दे लगाए गए हैं। भोजन के लिए नई क्राकरी मंगाई गई है। रंगरोगन का कार्य किया गया है।

सुरक्षा व्यवस्था को लेकर पुलिस मुस्तैद 
एसएसपी दिलीप कुंवर ने स्वीडन के शाही दंपति की सुरक्षा व्यवस्था के लिए कोटद्वार कोतवाली में पुलिस कर्मियों की बैठक ली। उन्होंने सभी कर्मियों और अधिकारियों को शाही दंपति की सुरक्षा को लेकर अलर्ट रहने के सख्त निर्देश दिए। उन्होंने नगर निगम को शाही दंपति के गुजरने वाले मार्ग पर लावारिश पशुओं को रोकने के निर्देश दिए। पत्रकारों से वार्ता में एसएसपी ने बताया कि कोटद्वार क्षेत्र में राजा-रानी का 70 किमी का भ्रमण है, जिसमें से 67 किमी जंगल का क्षेत्र है। सुरक्षा के लिए पुलिस ने राजस्व, नगर निगम और वन विभाग के साथ तैयारी की है।

14 एमएलडी एसटीपी का करेंगे लोकार्पण

स्वीडन के राजा कार्ल गुस्ताफ और क्वीन सिल्विया आज बृहस्पतिवार धर्मनगरी पहुंचेंगे। यहां वह 14 एमएलडी सीवर शोधन संयंत्र (एसटीपी) का लोकार्पण और निरीक्षण करेंगे। इसके लिए विभागीय अधिकारियों और कार्यदायी संस्था ने तैयारी कर ली है।

केंद्रीय संयुक्त सचिव एवं नमामि गंगे के कार्यकारी निदेशक रोजी अग्रवाल ने बुधवार को अलकनंदा होटल में पत्रकारों से बातचीत करते हुए शाही दंपति के पूरे कार्यक्रम की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि नमामि गंगे योजना के तहत एसटीपी का उत्तराखंड पेयजल निगम की निर्माण एवं अनुरक्षण इकाई ने रिकॉर्ड समय में निर्माण किया है। इस पर  41.4 करोड़ रुपये की लागत आई है।  इस दौरान  केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत भी शामिल होंगे।

हरिद्वार में 127 एमएलडी एसटीपी का प्लान
नमामि गंगे के निदेशक रोजी अग्रवाल ने बताया कि हरिद्वार में 127 एमएलडी एसटीपी का प्लान है। सराय के बाद जगजीतपुर में बन रहे 34 एमएलडी के एसटीपी का शुभारंभ कर दिया जाएगा। इसी के साथ प्रदेश में 23 एसटीपी पूरे हो चुके हैं, जबकि अन्य 6 महीने में पूरे हो जाएंगे।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में 192 करोड़ रुपये के 21 घाट और 20 श्मशान घाट तैयार कराकर चालू कर दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि हरिद्वार में नमामि गंगे से 60 करोड़ रुपये से 50 लाख पौधे लगवाएं हैं और 72 घाटों की सफाई का कार्य जारी है।

Leave a Comment