आजीविका परियोजना के उत्पादों के विपणन को की जाए उचित मार्केटिंग

आजीविका परियोजना के उत्पादों के विपणन को की जाए उचित मार्केटिंग

विकास भवन में जिला क्रियान्वयन एवं समन्वयन समिति की बैठक लेते डीएम नितिन सिंह भदौरिया।
विकास भवन में जिला क्रियान्वयन एवं समन्वयन समिति की बैठक लेते डीएम नितिन सिंह भदौरिया।
आजीविका परियोजना के उत्पादों के विपणन को की जाए उचित मार्केटिंग

डीएम ने बैठक लेकर की जिला क्रियान्वयन एवं समन्वयन समिति की समीक्षा
अमर उजाला ब्यूरो
अल्मोड़ा। जिला क्रियान्वयन एवं समन्वयन समिति (डीआईसीसी) की समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया ने कहा कि एकीकृत आजीविका परियोजना द्वारा जिले में अच्छा कार्य किया जा रहा है। जिससे लोगों की आजीविका के संसाधन बढ़ने के साथ ही उन्हें आर्थिकी भी मजबूती भी मिली है। उन्होंने आजीविका संस्थाओं द्वारा तैयार किए जा रहे उत्पादों के विपणन के लिए उचित मार्केटिंग की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। ताकि अच्छा मूल्य प्राप्त हो सके।
उन्होंने कहा कि परियोजना के उत्पादों को भारत निर्वाचन आयोग ने भी सराहा है। उनके द्वारा करीब 14 लाख रुपये के उत्पाद क्रय किए गए हैं। इसके अलावा गेल इंडिया लि. से भी आजीविका के उत्पादों के लिए आर्डर प्राप्त हुए है। जिले में बेकरी, डेयरी और पशुपालन के क्षेत्र में लोग आय अर्जित कर रहे हैं। परियोजना से जुड़ी महिला समूह की सदस्य कड़ी मेहनत कर रही हैं।
प्रभागीय परियोजना प्रबंधक आजीविका कैलाश भटट ने कहा कि परियोजना के अंतर्गत एलडीपीई टैंक निर्माण, पॉली हाऊस, शैडनेट हाऊस, मधुमक्खी बॉक्स, डेयरी फ्रार्मिंग, पोल्ट्री बैकयार्ड, सब्जी, मसाला उत्पादन, किचन गार्डन, फल उत्पादन, कंपोस्ट पिट, ड्रिप सिंचाई आदि कार्य किए जा रहे हैं। बैठक में सीडीओ मनुज गोयल, आजीविका मिशन के प्रबंधक प्रदीप पाठक, सहायक प्रबंधक विक्रम तोमर, सहायक प्रबंधक (मार्केट) राजेश मठपाल, सहायक प्रबंधक कृषि-उद्यान प्रदीप सिंह, पीडी नरेश कुमार, डीएफओ सिविल सोयम केएस रावत, मुख्य उद्यान अधिकारी टीएन पांडे, सीएओ प्रियंका सिंह, सीवीओ डॉ. रविंद्र चंद्रा, महाप्रबंधक उद्योग डॉ. दीपक मुरारी मौजूद थे।
फोटो लाइन- विकास भवन में जिला क्रियान्वयन एवं समन्वयन समिति की बैठक लेते डीएम नितिन सिंह भदौरिया। (फाइल नं. 13एएलएम13पी

Leave a Comment