Spread the love

अब चोरी या गुम हुए मोबाइल फोन का पता लगाना होगा आसान, ऐसे करें इस सुविधा का अब दिल्ली-एनसीआर में चोरी, गुमशुदा या लूटे हुए मोबाइन फोन को ढूंढना बेहद आसान हो जाएगा। केंद्रीय संचार, इलेक्ट्रॉनिक और सूचना तकनीक मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सोमवार को उपराज्यपाल अनिल बैजल के साथ एक नया पोर्टल लॉन्च किया है। इस पोर्टल पर दिल्ली-एनसीआर के लोग मोबाइल चोरी या गुम हो जाने पर सीधी शिकयत दर्ज करा सकेंगे। साथ ही लोग सरकार की वेबसाइट पर जाकर नंबर को ब्लॉक भी कर सकतें हैं।

इसके बाद मोबाइल देश में किसी भी टेलीकॉम सर्कल में और किसी भी टेलीकॉम कंपनी के नेटवर्क पर काम नहीं करेगा। सरकार के इस कदम से बड़े पैमाने पर चल रही मोबाइल चोरी की घटनाओं पर लगाम लगेगी। सरकार की इस सेवा से 5.36 करोड़ मोबाइल यूजर्स को फायदा होगा। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस सेवा को सबसे पहले मुंबई में शुरू किया गया था।

लॉन्चिंग के दौरान रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि अब दिल्ली और एनसीआर के यूजर्स मोबाइल गुम या चोरी होने पर https://www.ceir.gov.in साइट पर जाकर शिकायत दर्ज करा सकते हैं। हालांकि, लोगों को पुलिस में भी शिकायत दर्ज करानी होगी। टेलीकॉम सचिव अंशु प्रकाश ने बताया कि देश के किसी भी कोने में अगर चोरी हुआ मोबाइल इस्तेमाल किया जा रहा होगा तो उसकी लोकेशन पता चल जाएगी और उसे ट्रेक किया जा सकेगा। जिसके जरिए पुलिस उस मोबाइल तक आसानी से पहुंच सकती है। इससे मोबाइल चोरी की घटनाओं में भारी कमी आएगी।

चोरी की घटनाओं पर लगेगी लगाम

टेलीकॉम सचिव ने कहा है कि चोरी का मोबाइल देश के किसी भी कोने में इस्तेमाल किया जा रहा है, तो साइट उसकी लोकेशन की जानकारी देगी। वहीं, पुलिस भी चोरों तक आसानी से पहुंच जाएगी। रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली में करीब 40,000 फोन चोरी हुए हैं या फिर गुम होते हैं। 

ऐसे करें इस सेवा का इस्तेमाल

अगर आपका फोन गुम या चोरी हो गया है, तो सबसे पहले आपको एफआईआर दर्ज करानी होगी। इसके बाद https://www.ceir.gov.in साइट पर जाकर पहचान पत्र के साथ पुलिस कंप्लेंट की कॉपी अपलोड करनी होगी। इसके बाद डीओटी आपके नंबर और आईएमईआई को ब्लॉक कर देगा। वहीं, इससे आपके नंबर का गलत उपयोग नहीं होगा। सेंट्रल इक्विपमेंट आइडेंटिटी रजिस्टर में सबसे पहले मुंबई को शामिल किया गया था, जहां पर अभी तक 309 शिकायतें दर्ज कराई गई और इसमें से 142 मोबाइल फोन ट्रेस किए जा चुके हैं।


Spread the love

By udaen

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *