रदेश के युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करना मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की प्राथमिकता है, जिसके मध्यनजर इस वर्ष 201920 के बजट में श्रम एवं सेवायोजन के अन्तर्गत 394.54 करोड़ का प्राविधान किया गया ह

Awareness Devlopment

प्रदेश के युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करना मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की प्राथमिकता है, जिसके मध्यनजर इस वर्ष 201920 के बजट में श्रम एवं सेवायोजन के अन्तर्गत 394.54 करोड़ का प्राविधान किया गया है तथा राज्य सरकार द्वारा ईज आॅफ डूईंग बिजनेस योजना, शिशिशुक्षों को प्रशिक्षण, कृषि पर्यटन, इलैक्ट्राॅनिक आदि में पर्वतीय जिलों के युवाओं को प्रशिक्षण एवं रोजगार उपलब्ध कराने सहित अनेक योजनाऐं संचालित हैं। युवाओं को रोजगार के बेहतर अवसर उपलब्ध कराने के लिए आगामी 6 मार्च को परेड ग्राउण्ड में युवा उत्तराखण्डरोजगार एवं उद्यमिता की ओर कार्यक्रम आयोजन किया जायेगा। इस सम्बन्ध में बुधवार को मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह की अध्यक्षता में विधान सभा में उनके कक्ष में आयोजित की गई। बैठक में कार्यक्रम के आयोजन के लिए विभिन्न समितियों का गठन किया गया। जिसमें मुख्य पण्डाल में प्रदेश के विभिन्न जनपदों से आये युवाओं को मुख्यमंत्री तथा विषय विशेषज्ञों द्वारा प्रदेश में रोजगार परक योजनाओं, नीतियों व रोजगार के अवसरों के बारे में जानकारी दी जायेगी। कार्यक्रम में पर्यटन, कृषि, उद्यमिता, सहकारिता व अन्य क्षेत्रों में स्वरोजगार को प्रोत्साहन के लिए विभागीय योजनाओं/कार्यक्रमों के बारे में व्याख्यान एवं फिल्म प्रदर्शन के माध्यम से युवाओं को जानकारी दी जायेगी तथा परेड ग्राउण्ड परिसर में आयोजित कार्यक्रम में लघु उद्योग, पर्यटन, सेवा क्षेत्र में संचालित योजनाओं एवं कार्यक्रमों पर सम्बन्धित विभागों द्वारा स्टाॅल माध्यम से युवाओं को जानकारियां उपलब्ध करायी जायेगी। विगत अक्टूबर में हुए इन्वेस्टर समिट में किये गये एमओयू के अधीन स्थापित/गतिमान उद्योगों के निवेशकों द्वारा भी प्रतिभागियों को अपनीअपनी परियोजना के सम्बन्ध में जानकारी दी जायेगी। प्रदेश सरकार द्वारा पीरूल नीति, प्रसाद योजना तथा ग्रामीण क्षेत्रों में स्थपित काॅमन सेन्टर्स के बारे में प्रतिभागियों को जानकारी एवं आवेदन करने के तरीकोंआदि के सम्बन्ध में जानकारी दी जायेगी। बैठक में तय हुआ कि सचिव मुख्यमंत्री श्रीमती राधिका झा विषय विशेषज्ञों से सम्पर्क करेंगी। सचिव मुख्यमंत्री द्वारा बताया गया कि उद्घाटन सत्र में जनपदों से आये लगभग 10 हजार युवाओं को मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड त्रिवेन्द्र सिंह रावत, विभिन्न विषयों के विशेषज्ञ सम्बोधित करेंगे। इसके बाद पर्यटन, लघु उद्योग, सेवा क्षेत्र से सम्बन्धित सेक्टोरियल सेशन चलेंगे। जिन में युवा नये लघु उद्यमी एवं बेरोजगार प्रतिभाग करेंगे। प्रतिभागियों को विषय विशेषज्ञ उनकी रूचि से सम्बन्धित उद्योग एवं रोजगारों के विषय में जानकारियाँ उपलब्ध करायेंगे। इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए जिलाधिकारी देहरादून की अध्यक्षता में अनुश्रवण एवं कार्यक्रम क्रियान्वयन समिति का गठन किया गया है। जिसमें अन्य सदस्य के रूप में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून, अपर सचिव उच्च शिक्षा डाॅ0 इकबाल अहमद, नगर निगम आयुक्त, महानिदेशक सूचना, निदेशक उद्योग, अपर सचिव लोक निर्माण विभाग प्रदीप रावत को शामिल किया गया है। यह समिति कल परेड ग्राउण्ड कार्यक्रम स्थल में जाकर बृहद कार्य योजना की रूपरेखा तैयार करेगी। बैठक में यह निर्णय लिया गया कि महानिदेशक सूचना, दीपेन्द्र चैधरी के संयोजन में विभिन्न विभागों में संचालित रोजगार परक योजनाओं पर एक फिल्म का निर्माण किया जायेगा। प्रदर्शनी कार्यक्रम का नोडल अधिकारी प्रमुख सचिव उद्योग मनीषा पंवार को नामित किया गया। इसी प्रकार अन्य सेक्टोरियल सेशन के लिए सम्बन्धित विभागों के सचिवों को नोडल अधिकारी के रूप में नामित किया गया है। इस बृहद कार्यक्रम को अंतिम रूप देने के लिए कल (आज) मुख्य सचिव की अध्यक्षता में पुनः बैठक आयोजित की जायेगी। इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव डाॅ. रणवीर सिंह, श्रीमती राधा रतूड़ी, प्रमुख सचिव श्रीमती मनीषा पंवार, सचिव वित्त अमित सिंह नेगी, सचिव श्रीमती राधिक झां, हरबंस सिंह चुघ, आर मीनाक्षी सुन्दरम, रंजीत कुमार सिन्हा, अपर सचिव आशीष श्रीवास्तव आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *